अमेरिका, दुबई में बसे इंदौरी युवाओं ने  पुलिस, डॉक्टर्स के लिए बनाई फेस शील्ड!  

इंदौर। कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह बचाव के लिए चेहरे का बचाव बेहद जरुरी है। साधारण मास्क से सिर्फ मुँह के अंदर जाने वाले वायरस से कुछ हद तक बचा जा सकता है! लेकिन, यदि चेहरे पर फेस शील्ड लगा हो, तो संक्रमण होने की आशंका बहुत कम हो जाती है। शहर के पुलिस कर्मियों और डॉक्टर्स को ये फेस शील्ड कुछ युवाओं ने मुहैया कराने का बीड़ा उठाया है। 

  इंदौर के अमेरिका और दुबई में कार्यरत युवाओं को जब पता चला कि कोरोना संक्रमण से जूझ रहे इंदौर के पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों के पास बचाव के पर्याप्त साधन उपलब्ध नहीं हैं, तो उन्होंने इंदौर के अपने साथियों से संपर्क किया और इसके लिए पैसों इंतजाम किया। इंदौर की एवीएम इंफोटेक के वैभव नागोरी ने उनका साथ दिया और थ्री-डी प्रिंटर से फेस प्रोटक्शन शील्ड बनाकर उसे कई थानों में निशुल्क वितरित किया। ये अपने आपमें एक नया उत्पाद है, जिसे जरुरत के मुताबिक डिजाइन किया गया है। इसमें पूरा चेहरा ढंका रहना है और वायरस से संक्रमण की आशंका न्यूनतम हो जाती है। आशीष सक्सेना के मुताबिक वैभव नागौरी, आनंद इंगले और मैंने सबसे पहले इस फेस शील्ड का आईडिया बनाया, जिसमें अजय कासलीवाल, अंकुश अग्रवाल और संजय जैन ने सुधार किया और इसके लिए पैसों का इंतजाम किया! थ्री-डी प्रिंटर से बनने वाली इस फेस शील्ड  कीमत करीब 350 से 400 रुपए के बीच आती है। लेकिन, अपने अपने संसाधनों से इसके लिए पैसे इकट्ठा किए और शहर में पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों को मुफ्त बांटे! अभी तक शहर में 700 से ज्यादा फेस शील्ड वितरित की जा चुकी है। सक्सेना ने बताया कि अमेरिका, इंग्लैंड, दुबई और इंदौर के हमारे आईटी क्षेत्र साथी पैसे की व्यवस्था में लगे हैं। उम्मीद है कि हम जल्द ही बचे पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों को भी ये फेस प्रोटक्शन शील्ड मुहैया करा सकेंगे। 

   पुलिस महानिरीक्षक विवेक शर्मा ने भी इसे पुलिस के लिए बचाव के लिए सबसे अच्छा उपाय बताया और इस काम की सराहना की। उन्होंने कहा कि ये संक्रमण से बचाव का एक बेहतरीन फेस मास्क है। इससे हमारे पुलिसकर्मियों को ज्यादा सुविधा होगी। जबकि, एमवाय अस्पताल के कैंसर विशेषज्ञ और सर्जन डॉ नीरज छारी ने भी इसे डॉक्टर्स के लिए सबसे अच्छा मास्क बताया। उन्होंने इसे मेडिकली फिट बताया और कहा कि कोरोना का वायरस चेहरे के आसपास सबसे आसानी से अटैक करता है और इस फेस शील्ड से डॉक्टर्स का अच्छी तरह से बचाव हो सकेगा।   

Popular posts