हनीट्रैप में पकड़ी मोनिका के परिजन उससे मिलने जेल तक नहीं आए!
हनीट्रैप में पकड़ी मोनिका के परिजन

उससे मिलने जेल तक नहीं आए!

  इंदौर। हनी ट्रैप मामले में सरकारी गवाह बनने वाली मोनिका जेल में बंद है और उसके परिजन परेशान हैं कि वो कैसे बाहर आएगी। न तो उन्होंने वकील किया है, न ही जेल में जाने के बाद मोनिका से मुलाकात के लिए आए हैं, जबकि अन्य आरोपित महिलाओं के परिजन लगातार मुलाकात भी ले रहे हैं। 

    मोनिका के पिता व गांव के अन्य लोग पुलिस के भरोसे हैं, क्योंकि पुलिस के अधिकारियों ने दिलासा दे रखा है कि वे उसे केस से बाहर लेकर आएंगे।
हनी ट्रैप मामले में पुलिस ने दो अलग-अलग मामले दर्ज किए थे। पलासिया पुलिस ने पहले मामले में मोनिका यादव को भी आरोपित बनाया था, लेकिन दूसरा मामला जो मानव तस्करी का दर्ज किया इसमें मोनिका के पिता फरियादी थे और मोनिका को केस से बाहर रखा था। पुलिस मोनिका को सरकारी गवाह बना चुकी है। ऐसे में उसके परिजन व गांव वाले पसोपेश में हैं कि वह कैसे बाहर आएगी। पुलिस अधिकारी उनसे फोन पर बात भी नहीं कर रहे हैं। वे मुलाकात के लिए भी इंदौर नहीं आ रहे। पिता की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। वे मामले में मोनिका का नाम सामने आने के बाद ही इससे दूर हो गए थे, लेकिन पुलिस उन्हें इंदौर लेकर पहुंची और मोनिका के साथ पहले मामले में शामिल अन्य आरोपितों पर मानव तस्करी का प्रकरण दर्ज किया। उधर, पुलिस के आला अधिकारियों ने कहा था कि मोनिका को पहले केस से भी बाहर लाया जाएगा, लेकिन यह कब होगा इसके बारे में कुछ भी नहीं कहा था। पुलिस के अफसर मोनिका के परिजनों से भी बात नहीं कर रहे हैं।

Popular posts