'श्वेता जैन युवा मेरे कार्यकाल में मोर्चा  कीकार्यकारिणी में महामंत्री नहीं थी'
'श्वेता जैन युवा मेरे कार्यकाल में मोर्चा 

कीकार्यकारिणी में महामंत्री नहीं थी'


 


- दिग्विजय सिंह के आरोपों पर जीतू जिराती ने पलटवार किया 

इंदौर। भाजपा के पूर्व विधायक और भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके जीतू जिराती और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बीच बयान युद्ध चला! हनी ट्रैप मामले में उठाए गए सवालों के जवाब में दिग्विजय सिंह ने कहा कि मोर्चा अध्यक्ष रहने के दौरान जीतू जिराती की कार्यकारिणी में श्वेता पति विजय जैन (हनी ट्रेप कांड की आरोपी) महामंत्री थी। जबकि, जिराती ने इस बात को गलत बताया!

  दिग्विजय सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान यह सवाल पूछा था कि जीतू जिराती के प्रदेश मोर्चा अध्यक्ष रहने के दौरान क्या श्वेता जैन उनके मोर्चे में महामंत्री थी? इसका उक्त जवाब जिराती ने दिया है। उन्होंने इस पूरे मामले की सीबीआई या अन्य किसी एजेंसी से जांच कराने की मांग की है। हनी ट्रैप मुद्दे पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर हमला बोला! उनका आरोप था कि जब जीतू जिराती युवा मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष थे, तब श्वेता जैन युवा मोर्चा की महामंत्री थी! उन्होंने यह भी कहा कि उस समय महाराष्ट्र युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष निलंगेकर थे, जो फिलहाल फडणवीस सरकार में मंत्री है! जब श्वेता जैन का वीडियो वायरल हुआ तो वे महाराष्ट्र में किसके साथ थीं? दिग्विजयसिंह ने कहा कि यह भी पता लगाएं कि जिराती सागर में विजय जैन की दुकान का उद्घाटन करने गए थे कि नहीं? 

  दिग्विजय सिंह के सभी आरोपों को गलत बताते हुए जीतू जिराती ने कहा कि वे एक आपराधिक घटना का राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रहे हैं! कांग्रेस की सरकार है तो उन्हें इस मामले की सीबीआई जांच करवाना चाहिए और जो दोषी हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए! जिराती ने यह मांग भी की है कि उन लोगों के साथ भी न्याय होना चाहिए जिन्हें इन मामले में फंसाया गया है!

Popular posts