मानसून की 5 अक्टूबर तक बिदाई के आसार! 
मानसून की 5 अक्टूबर तक बिदाई के आसार!

  इंदौर। शहर में क्वांर माह में कमोबेश बारिश विदा हो जाती है। लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो रहा। सितम्बर माह के अंतिम दिनों तक बारिश का कहर जारी है, जिससे लोग अब थमने की कामना कर रहे हैं। 60 साल पहले इस तरह की बारिश शहर में हुई थी। 

  मौसम विभाग के मुताबिक पहली बार बारिश 5 अक्टूबर तक विदा ले लेगा। अमूमन हाल साल इस समय तक मानसून लौट चुका होता है, लेकिन इस बार देरी कर रहा है। मानसून का इतनी देरी से लौटना लोगों के लिए आफत बन चुका है। देश के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश से जानमाल का नुकसान हुआ है और यह लोगों पर कहर बनकर टूट रही है। वर्तमान में बारिश का आंकड़ा 52 इंच के आसपास पहुंच गया है। बादल भी दिनभर घिरे रहते हैं, जिससे बारिश की संभावना बनी रहती है। शहर की जरूरत के मान से 5 से 7 इंच बारिश अधिक हो चुकी है, जबकि पर्यावरण को देखते हुए ऐसी स्थिति नजर नहीं आ रही थी। इतनी भारी बारिश किसानों के लिए भी अच्छी नहीं बताई जा रही है। मानसून की जो स्थिति है, अभी  10 दिन तक इसके लौटने के आसार नजर नहीं आ रहे। 1960 के बाद यह पहली बार है, जब मानसून इतनी देरी से अलविदा कहेगा। उधर, पांच अक्टूबर तक मानसून के लौटने तक भारी बारिश का अनुमान है। इसलिए हो सकता है पांच अक्टूबर तक मानसून लौटना भी शुरू नहीं हो पाएगा। 

Popular posts