माचल ग्राम पंचायत का निरीक्षण  मंत्री ने सचिव को निलंबित किया! 
माचल ग्राम पंचायत का निरीक्षण 

मंत्री ने सचिव को निलंबित किया!

  इंदौर। प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल ने जिले की देपालपुर जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत माचल का अचानक निरीक्षण किया। इस दौरान ग्राम पंचायत का निरीक्षण कर ग्रामीणों से उनकी समस्याओं के संबंध में जानकारी प्राप्त कर पंचायत सचिव को अनियमितता एवं लापरवाही के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए।
  पंचायत मंत्री कमलेश्वर पटेल ने जब ग्रामीणों से  शौचालय, खाद्यान्न, विकलांगता एवं अन्य ग्राम पंचायत के कार्यों की समीक्षा ग्रामीणों के साथ की तो कई अनियमितताएं सामने आई। इसके चलते पंचायत सचिव भगवान सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। श्रमिक केसर सिंह चौधरी ने बताया कि उनके बच्चे महेश चौधरी का पिछले वर्ष निधन हो गया था, लेकिन उसे कोई आर्थिक मदद आज तक नहीं मिली। इस अवसर पर अन्य ग्रामीणों ने भी अपनी समस्याओं के संबंध में जानकारी दी। ग्राम पंचायत में शौचालय का निर्माण नहीं हुआ! इससे महिलाओं को अप्रिय स्थिति का सामना करना पड़ता है। लक्ष्य की समय सीमा में पूर्ति न करने के आरोप में चौधरी से पूछताछ की गई, लेकिन वे उत्तर नहीं दे पाए! मंत्री ने सम्बंधित अधिकारियों को ग्राम पंचायत के आसपास जहां कीचड़ और पानी फैला है, वहां तत्काल ब्लॉक लगाने और उसे सीमेंट कंक्रीट करने की योजना बनाने के निर्देश दिए। सपना चौहान जो कि शत-प्रतिशत विकलांग है, उसे विकलांगता पेंशन नहीं दी जा रही है! इस पर तत्काल उन्हें विकलांगता पेंशन दिए जाने के निर्देश भी पंचायत मंत्री ने दिए।  पंचायत मंत्री ने आंगनवाड़ी केंद्र का भी निरीक्षण किया और बच्चों को दी जाने वाली सुविधाओं की जानकारी ली। पटेल ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश में जनता की सरकार है और ग्रामीण विकास की योजनाओं का शत प्रतिशत लाभ पात्र व्यक्तियों को दिया जाए इसमें किसी भी स्तर पर कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पंचायत मंत्री श्री पटेल ने इस अवसर पर ग्राम पंचायत कार्यालय को माचल के नवीन भवन में शीघ्र स्थानांतरित होने के लिए निर्देश भी दिए।

Popular posts