मिठाई की दुकान में दूषित मावा और  गुलाब जामुन पकड़े, आज समीक्षा!    
मिठाई की दुकान में दूषित मावा और 

गुलाब जामुन पकड़े, आज समीक्षा!   

इंदौर। मिलावटखोरों के खिलाफ प्रशासन और खाद्य विभाग की कार्रवाई जारी है। खाद्य विभाग की टीम ने एमआर -10 चौराहे स्थित श्रीनाथ मिष्ठान भंडार पर दबिश दी। टीम को यहां गंदगी के बीच बड़ी मात्रा में फंगस लगा मावा मिला। इसी मावे से मिठाई तैयार करवाई जा रही थी। इसके अलावा काफी दिनों पहले बना गुलाब जामुन भी बड़ी मात्रा में मिला। इंदौर में मिलावटखोरों के खिलाफ की जाने वाली कार्रवाई की रणनीति आज 14 अगस्त को बनाई जाएगी।

  इसके अलावा खमण की हालत तो काफी दयनीय थी। टीम पूरी सामग्री तो तत्काल नष्ट करवाया और काउंटर पर रखी मिठाई और नमकीन के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे। गंदगी और फंगस के चलते टीम ने कारखाने को सील कर दिया है। रिपोर्ट में गड़बड़ आती है तो संचालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। तहसीलदार मनीष श्रीवास्तव ने बताया कि मिलावटखोरों के खिलाफ प्रशासन की कार्रवाई जारी है। त्योहारी सीजन होने की वजह से इसे और तेज कर दिया गया है। 
  श्रीवास्तव ने कहा कि कारखाने पर बड़ी मात्रा रखे मावे से मिठाई बनाई जा रही थी। मावा दूषित होने के साथ ही उसमें फंगस लगा हुआ था। गुलाब जामुन ऐसा लगा रहा था, जैसे लंबे समय से बनकर रखे हुए हैं। इस पर सभी को नष्ट करवाया गया। बिकने के लिए रखी मिठाइयों के भी सैंपल लिए गए हैं। यदि इनमें कुछ अमानक तत्व पाया जाता है तो नष्ट करवाने के साथ ही कानूनी कार्रवाई की जाएगी। खाद्य निरीक्षक मनीष गोस्वामी ने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि नाथ मिष्ठान भंडार पर दूषित मिठाई बिक रही है। कलेक्टर के निर्देश पर यहां दबिश दी गई। यहां पर काफी गंदगी के बीच मिठाई बन रही थी। मिठाइयों में फंगस लगी हुई थी। साारी मिठाई नष्ट की गई है। सभी के सैंपल लिए गए हैं, रिपोर्ट को कलेक्टर के सामने प्रस्तुत किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। 

रणनीति बनेगी 


  संभाग आयुक्त आकाश त्रिपाठी द्वारा संभाग में मिलावटखोरों के खिलाफ चल रहे अभियान की 14 अगस्त को समीक्षा की जाएगी। बैठक में खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अमानक दूध, पनीर, घी, मावा एवं अन्य खाद्य पदार्थीं के में नीति तय की जाएगी।


Popular posts