दिव्यांग युवाओं को प्रशिक्षण 
 

इंदौर। दिव्यांग युवाओं को अपने पैरों पर खड़े होने के लिए मेहनत करने से कोई नहीं रोक सकता। जिले में मूक-बधिर, नेत्रहीन और श्रवण बाधित युवाओं को शासकीय नौकरी पाने के लिए किस तरह प्रतियोगी परीक्षाएं सफल करना है। इन परीक्षाओं में किस तरह के सवाल पूछे जाते हैं और वे किस तरह  से काम कर सकते हैं। यही नहीं, उन्हें कार्य करने की पद्धति का प्रशिक्षण भी सामाजिक न्याय विभाग के माध्यम से दिया जाएगा। अपर कलेक्टर दिनेश जैन ने बताया कि जिले के इस तरह  के 60 के लगभग युवाओं का चयन विभाग के माध्यम से किया जा रहा है। इन युवाओं को बैंकिंग सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने के लिए कोचिंग की व्यवस्था की जा रही है। यहां पर आकर प्रशिक्षण लेंगे और परीक्षा में सफल होने के गुर भी सीख पाएंगे। यह प्रशिक्षण और कोचिंग पूरी तरह से नि:शुल्क रहेगा।इस कार्य के लिए युवाओं का चयन अंतिम चरण में है। जल्द ही यह कोचिंग आरंभ हो जाएगी।

---------------------------------------------------------------------

 


Popular posts